Saturday, 22 February 2020

तेजपत्ते का काढ़ा कैसे है लाभदायक






तेजपत्ता मसाला ही नहीं औषधि भी है रसोई में रखे खाने के मसाले के रूप में प्रयोग होने वाला तेजपत्ता साधारण जुकाम से लेकर खतरनाक कैंसर, किडनी से लेकर दिल तक की बीमारी में फायदेमंद है। दादी-नानी द्वारा बताए नुस्खों को यदि याद करें तो पाएंगे कि रसोई दवाओं का भंडार है। यह पाचन में सहायक होता है और इसके सेवन से कई प्रकार के पाचन संबंधी विकार सही हो जाते हैं। अगर आपको कब्ज, एसिड और ऐंठन की शिकायत रहती है तो तेजपत्ता आपके लिए रामबाण साबित हो सकता है
                   
       तेजपत्ता का काढ़ा पीने से पुराने कमर दर्द में बहुत जल्दी आराम मिलता है। शीत लहर के कारण होने वाले दर्द को भी ये काढ़ा दूर करता है। इसके अलावा कमर दर्द में आप तेजपत्ता के तेल से भी मालिश कर सकते हैं।





           बाल झड़ने की समस्या के वजह से लोग बड़े परेशान रहते हैं अगर आपको भी यह परेशानी है तो आप तेजपत्ता का इस्तेमाल करिए सबसे पहले आप इसके इस्तेमाल के लिए तेज पत्ता लें और उसे पानी में डालकर उबाल लें और एक काढ़ा तैयार कर लें उसके बाद आप इसे अपने बालों में लगाइए और आधे घंटे के बाद इसे धो दीजिये आप इस उपाय को हफ्ते में 2-3 बार जरुर दोहराएं ऐसा करने से कुछ ही वक्त में आपके बाल गिरने बंद हो जाएंगे।





                                    अगर कही पर मोच आ गई हो, तो सूजन और दर्द से राहत देने में तेजपत्ते का काढ़ा सहायक होता है। आप चाहें तो तेजपत्ता को पीसकर उसका लेप भी दर्द वाली जगह पर लगा सकते हैं इससे भी राहत मिलती है।

No comments:

Post a comment