• Thursday, 31 January 2019

    भारत के मुख्य पर्यटन स्थल

    दुनिया में सबसे खूबसूरत देश भारत है इसे  ऋषिमुनियो और अवतारों की भूमि कहा गया धरती पर १४%भाग बसा हुआ और ७०%भाग में जल है भारत  में एक  ऒर  हिमालय है तथा  तीनो  ओर समुद्र है जिसके १३ राज्यों की सीमा से समुद्र लगा हुआ है   
      










    कन्याकुमारी =  तमिलनाडु  राज्य का एक बहुत प्रसिद्ध शहर है ये मध्य काल में विजय नगरम साम्राज्य का भी हिस्सा था यहाँ भगवांन शिव ने वाणासुर नामक असुर को वरदान दिया था की कुवारी कन्या के शिवा उसका वध की  नहीं कर पाए गए प्राचीन काल में भरत नामक राज यहाँ राज्य करता था उसकी ९ सन्तानो में ८ पुत्री और १ पुत्र था उसने अपने साम्राज्य के बराबर हिस्से करके सभी सन्तानो को दिया  दक्षिण का हिस्सा उसकी कुवारी कन्या को मिला जो शिव भक्त थी और भगवन शिव से विवाह करना चाहती थी परन्तु उनका विवाह शिव से नहीं हो पाया कुछ समय बाद कुवारी ने वाणासुर का वध कर दिया  कुवारी की याद में ही दक्षिण  भारत के इस जगह को कन्याकुमारी कहा जाने लगा यहाँ देवी पर्यावती की  कन्या रूप में पूजा होने लगी मंदिर में प्रवेश के लिए पुरषो को अपने कमर के ऊपर के वस्त्र उतरने पड़ते है कुमारी की याद में ही दक्षिण  भारत का नाम कन्याकुमारी पद गया 


    कश्मीर का श्रीनगर = भारत के सबसे उत्तर में स्थित राज्य है कश्मीर घाटी में बसा श्रीनगर  भारत के मुख्य पर्यटन स्थलों में एक है और यहाँ की खूबसूरती ख़ास हनीमून के लिए तो हमेशा से आइडियल डेस्टिनेशन रहा है १७०० मीटर की उचाई पर बासा यह शहर झीलों और हाउस बोड के लिए दुनिया भर में फेमस है यहाँ की सबसे प्रसिद्ध झील डल झील  है  डल झील विश्व की प्राकृतिक झीलों में सबसे खूबसूरत झील है। यहाँ सबसे ज्यादा चीड़ के वृक्ष पाए जाते है आमतौर पर यहाँ विदेशी भी बहुत झूमने जाते है भारत में केसर प्राप्त करने का एकमात्र माध्यम कश्मीर ही है क्योंकि कश्मीर में ही केसर के लिए उपयुक्त जलवायु पाई जाती है। कई विदेशी लोग इसे भारत का स्विट्जरलैंड भी कहते हैं।










    द्वारिका = एक पौराणिक शहर है यह भारत के पश्चिमी तट पर अरब सागर के किनारे पर गुजरात  में बसी हुई है यह भारत के सात प्राचीन शहरों में से एक है जो कि द्वारिकाधीश मंदिर के नाम से  प्रसिद्ध है।  द्वारिका में श्रीकृष्ण ने अपने राज्य पर शासन किया था। इसलिए यह हिंदुओं के लिए सबसे महत्वपूर्ण तीर्थ स्थान में से एक है। श्री कृष्ण की सत्तारूढ़ जगह के अलावा द्वारिका वह जगह है जहां भगवान विष्णु ने शंखासुर नामक राक्षस को मार डाला।यह 12 ज्योतिरलिंगों में से एक है।यहां आठवीं शताब्दी में सनातन धर्म की रक्षा और प्रसार के लिए आदि शंकराचार्य ने द्वारकापीठ की स्थापना की थी।


    अमरकंटक = नर्मदा नदी सोन नदी और जोहिला नदी का उदगम स्थान है। यह मध्य प्रदेश के अनूप पुर जिले में स्थित है। हिन्दुओ का यह का पवित्र स्थल है। मैकाल की पहाडि़यों में स्थित  है। यहां का वातावरण इतना सुरम्य है कि यहां महज तीर्थयात्रियों का ही नहीं बल्कि प्रकृति प्रेमियों का भी तांता लगा रहता है. दिल्‍ली से अमरकंटक की दूरी 989 किलोमीटर है यहां घने जंगल में गर्म पानी का सोता है अमरकंटक का बहुत सी परंपराओं और किवदंतियों से संबंध रहा है। कहा जाता है कि भगवान शिव की पुत्री नर्मदा जीवनदायिनी नदी रूप में यहां से बहती है। माता नर्मदा को समर्पित यहां अनेक मंदिर बने हुए हैं, जिन्‍हें दुर्गा की प्रतिमूर्ति माना जाता है। भगवान शिव की पुत्री नर्मदा जीवनदायिनी नदी रूप में यहां से बहती है। माता नर्मदा को समर्पित यहां अनेक मंदिर बने हुए हैं










    केरल= भारत का एक प्रान्त है। इसकी राजधानी तिरुयंतपुरम  है।यहां की मुख्य भाषा मलयालम  है हिन्दुओ  तथा मुस्लिम  के अलावा यहां ईसाई भी बड़ी संख्या में रहते हैं। भारत की दक्षिण-पश्चिमी सीमा पर अरब सागर पर्वत श्रृंखलाओं के मध्य एक खूबसूरत भूभाग स्थित है जिसे केरल के नाम से जाना जाता है। इस राज्य का क्षेत्रफल 38863 वर्ग किलोमीटर है और यहाँ मलयालम भाषा बोली जाती है। अपनी संस्कृति और भाषा-वैशिष्ट्य के कारण पहचाने जाने वाले भारत के दक्षिण में स्थित चार राज्यों में केरल प्रमुख स्थान रखता है। वर्तमान कालीन केरल में प्रांतीय भोजन के स्थान पर जो संस्कार बना है उसमें बहुदेशीय संस्कार का प्रभाव है किन्तु चावल भात तथा नारियल केरलीय भोजन का प्रमुख अंग है। केरल के भोजन संस्कार को रूपायित करने में धर्म जाति संप्रदाय औपनिवेशिकता इत्यादि का बड़ा योगदान है। 


    राजस्थान = राजस्थान का फतेहपुर शहर दुनिया में अपनी पुरानी विशाल सतरंगी हवेलियों के लिए जाना जाता है. सियाराम ग्रुप से लेकर पोद्दार, गोयनका, चंद्रा और मोरारका जैसे अधौगिक घरानों के अलावा विमल जालान जैसे अर्थशास्त्री और बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशाल मोदी का गृहनगर रहा है.क्षेत्रफल की दृष्टि से भारत गणराज्य का सबसे बड़ा राज्य है। यह भारत के उत्तर-पश्चिम इलाके में स्थित है। इसमें थार रेगिस्तान नामक बहुत विशाल बंजर भूभाग शामिल है जिसे ग्रेट भारतीय रेगिस्तान भी कहा जाता है रेगिस्तान में आबादी  बहुत कम पाई जाती है। यहां मीलों दूर कोई-कोई गांव मिलता है।एक वैज्ञानिक शोध के अनुसार अगर थार रेगिस्तान को पूरी तरह से सौर पैनलों द्वारा ढ़क दिया जाए, तो पूरे भारत  की बिजली की आपूर्ति की जा सकती है।










    अरुणाचल प्रदेश = भारत का एक उत्तर पूर्वी राज्य है। अरुणाचल का अर्थ हिंदी मे "उगते सूर्य का पर्वत" है अरुणाचल प्रदेश भारत का अभिन्न राज्य है किन्तु चीन  राज्य के एक भाग पर अपना अधिकार दक्षिणी तिब्बती  के रूप में जताता है। अरुणाचल प्रदेश की मुख्य  हिंदी भाषा और असमिया  है साथ ही अंग्रेजी भाषा भी आजकल धीरे धीरे लोकप्रिय हो रही है। भारत के नॉर्थ ईस्ट में स्थित सेवन सिस्टर स्टेट्स में से एक अरुणाचल प्रदेश, नॉर्थ ईस्ट का सबसे बड़ा राज्य है और यहां का 80 फीसदी हिस्सा जंगल है।इस राज्य में पहाड़ी और अर्द्ध-पहाड़ी क्षेत्र है। इसके पहाड़ों की ढलान असम राज्य के मैदानी भाग की ओर है।

     नई दिल्ली =  भारत की राजधानी है। वर्ष 2011 में दिल्ली महानगर की जनसंख्या 22 लाख थी।दिल्ली की जनसंख्या उसे दुनिया में पाँचवीं सबसे अधिक आबादी वाला, और भारत का सबसे बड़ा महानगर बनाती है। क्षेत्रफल के अनुसार भी, दिल्ली दुनिया के बड़े महानगरों में से एक है दिल्ली प्राचीन भारत और दिल्ली सल्तनत के कई साम्राज्यों के राजनीतिक और वित्तीय केंद्र के रूप में रह चुकी थी, खासकर 1694 से 1857 तक चले मुगल साम्राज्य के शासन के दौरान। सन् 1900 की शुरुआत के दौरान ब्रिटिश प्रशासन को ब्रिटिश भारतीय साम्राज्य की राजधानी पूर्व तट के कलकत्ता से, दिल्ली बदलने का प्रस्ताव सौपा गया यमुना नदी के किनारे स्थित इस नगर का गौरवशाली पौराणिक इतिहास है। यह भारत का अति प्राचीन नगर है।दिल्ली का प्राचीनतम उल्लेख महाभारत  नामक महापुराण में मिलता है


    जयपुर = राजस्थान  की राजधानी जयपुर को गुलाबी नगरी नाम से भी जाना जाता है। यह  नगर अपनी सुंदर नगरों हवेलियों और किलों के लिए प्रसिद्ध  है। जयपुर का अर्थ है  जीत का नगर जयपुर को यदि पास से देखना हो तो पूरे नगर को पैरों से नापना एक अच्छा विकल्प हो सकता है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली  से यह नगर २६२ किमी की दूरी पर स्थित है जिन गांवों को मिलाकर जयपुर को बसाया गया था उनका पुराना नाम वर्तमान के नामों से अलग है 1727 में जयपुर नगर का निर्माण शुरू हो गया था, इनमें प्रमुख खंडों को बनाने में करीब 4 साल का समय लगा। जयपुर की राजधानी आमेर हुआ करती थी शहर चारों ओर से दीवारों और परकोटों से घिरा हुआ है जयपुर की रंगत अब बदल रही है। हाल ही में जयपुर को विश्व के दस सबसे खूबसूरत शहरों में शामिल किया गया है शहर में बहुत से पर्यटन आकर्षण हैं, जैसे जंतर मंतर ;हवा महल 'सिटी पैलेस आदि।




    No comments:

    Post a Comment