• Friday, 6 October 2017

    मधुमक्खी से जुडी जानकारियां



    मधुमक्खी विश्व में बहुत पौष्टिक आहार शहद जानी जाती है इनसे हमें शहद मिलता है जो हमारे लिए बहुत लाभदायक होता है शहद एक ऐसा पदार्थ है जिसमे पौष्टिक आहार के सभी गुड़ पाए जाते है शहद को एकत्र करने के लिये भारत में अब हर जगह  मधुमक्खी पालन होने लगा है आज कल शहद की अच्छी मात्रा में ,मांग होने के कारण यह व्यापार तेज़ी  बढ़ता जा रहा है  इसमें किसानो की अच्छी आमदनी होती साथ ही इन्हे बहुत पौष्टीक  आहार मिलता आइये आज ह मधुमक्खी से जुड़े कुछ जानकारी आपको बताते  है | 

     मधुमक्खी के पेट की ग्रंथि से निकले मोम से इनका छत्ता बना होता है 




    इनके छत्ते में एक रानी  मधुमक्खीहोती है | 

    इनके  छत्ते में 10 नर और 99 % मादा  मधुमक्खी पायी जाती है | 

    नर  मधुमक्खी का काम केवल रानी मधुमक्खी से सम्भोग करके गरबधारण  करना होता है इसके लिए कई प्रयास करते पर एक हे सफल होता है | 

     मधुमक्खी को ५०० ग्राम शहद बनाने के लिए १ लाख  फूलो  से परागढ लेना होता है जिसमे इन्हे बहुत मेहनत  करनी पड़ती है | 







      मधुमक्खी १८५  अपने पंख फड़फडा सकती है १ मिनट में 

     मधुमक्खी एक ऐसा कीट है जिससे बनाया गया शहद हम इंसानो  जीवन में  पौष्टिक आहार है काम करता है | 

    क्या आपको पता है मधुमक्खी के दो पेट होते है एक खाना खाने के लिए एक रस इकट्ठा करने के लिए | 

    १६ किलो मीटर  रफ़्तार से मधुमक्खी उड़ती है | 







    ड्रोन मधुमक्खी में डंक  नहीं होता है | 

    मधुमक्खी में सुगने  की छमता बहुत अधिक  होती है | 

    मधुमक्खी की जिंदगी ४५ दिन की होती है  पूरी जिंदगी में १०० ग्राम शहद बना पाती है |

     

    1 comment:

    1. Sir madhumakkhi ka dank uski body ke kis part me paya jata h

      ReplyDelete